ड्रैगन का सैन्य खर्च भारत से चार गुना ज्यादा है, फिर भी हमारी सेना जमीन पर चीन से मजबूत

गलवां घाटी में पैदा हुए गतिरोध के बाद भारत और चीन सीमा पर सैन्य गतिविधियां तेज हो गई हैं।

चीन के अड़ियल रुख के चलते युद्ध जैसी स्थिति से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। वैसे तो चीन ने  रक्षा साजो-सामान पर भारत से चार गुना ज्यादा पैसा खर्च करता है, लेकिन जंग के मैदान में हमारे फौजी उसकी सेना से कहीं आगे हैं।

भारत के पास न सिर्फ दुनिया में सबसे ज्यादा सैनिक हैं, बल्कि  उनमें पहाड़ों पर युद्ध का बेमिसाल अनुभव भी है।

वायुसेना के पास भी जबरदस्त मारक क्षमता है। 1962 के युद्ध में भले ही भारत को हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन सितंबर 1967 में नाथु ला में  चीन को सबक सिखा दिया था। उसके बाद से आज तक चीन ने हम पर गोली चलाने की हिम्मत नहीं की है।

भारत ने 1962 के बाद से तीन जंग जीती हैं, वही चीन ने सिर्फ एक लड़ाई 1979 में लड़ी और उसमें भी करारी हार हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *