देवी सिंह भाटी ने आनंदपाल एनकाउंटर को लेकर ऐसा क्या कह दिया कि पूरे राजस्थान में चर्चा

देवी सिंह भाटी ने कहा है की आनंदपाल अपराधी था और अपराधियों का अंत में यही हश्र होता है

राजस्थान के बहुचर्चित आनंदपाल एनकाउंटर में सीबीआई ने कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी है जिसके अनुसार पुलिस द्वारा किया गया एनकाउंटर सही था। सीबीआई की रिपोर्ट के बाद उन संभावनाओं पर विराम लग गया जिनमें कहा गया कि आनंदपाल का एनकाउंटर फर्जी था। इसके अलावा सीबीआई ने आनंदपाल एनकाउंटर के बाद उसकी श्रद्धांजलि सभा में दंगा भड़काने व हिंसा फैलाने के जुर्म में 24 लोगों को आरोपी माना है। इस प्रकरण के बाद कई राजपूत संगठनों ने सीबीआई जांच पर भी आपत्ति जताई हैं।

अब आनंदपाल प्रकरण को लेकर पश्चिमी राजस्थान के कद्दावर राजपूत नेता देवी सिंह भाटी ने बड़ा बयान दिया है। देवी सिंह भाटी ने कहा कि आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद से ही कुछ संगठनों के नेता उसकी मौत पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं जबकि यह लोग उस वक्त कहां थे जब तक आनंदपाल जिंदा था। भाटी ने कहा कि ऐसे लोग समाज के नाम पर युवाओं को बरगला रहे हैं लेकिन मैं उनसे यह पूछना चाहता हूं कि आनंदपाल सिंह ने राजपूत समाज के लिए क्या किया था? देवी सिंह भाटी ने कहा कि आनंदपाल सिंह ने कई राजपूत लोगों की भी हत्या की थी, अपराध करना एवं गलत धंधे करना उसका पैशा था।

एक मीडिया चैनल से बातचीत करते हुए देवी सिंह भाटी ने कहा कि आनंदपाल सिंह गुंडा एवं अपराधी था और अपराधियों का अंत में यही हश्र होता है। उन्होंने कहा कि समाज के कुछ लोग युवाओं को बरगलाकर गलत दिशा में ले जा रहे हैं, ऐसे युवाओं को अपने घर एवं परिवार के बारे में सोचना चाहिए, अगर गलती से कहीं पर मुकदमा दर्ज हो गए तो जीवन भर भटकते रह जाओगे। देवी सिंह भाटी ने कहा कि देश और दुनिया में चाहे कितने ही बड़े अपराधी एवं गुंडे हुए हो, उनका अंत में यही हश्र हुआ है कि या तो पुलिस के हाथों मारे गए या सेना के हाथों मारे गए।

Leave a Comment