बुखार में भी दी परीक्षा, इन रणनीतियों से बिना कोचिंग बन गई IAS अधिकारी

एक ऐसी दिलचस्प कहानी है सौम्या शर्मा की जो वर्तमान में भारतीय प्रशासनिक सेवा की अधिकारी हैं। सपने तो सभी देखते हैं पर उन्हें सच कर दिखाने का हौसला बहुत कम लोगों में होता है ऐसे ही एक हौसला हमें सौम्या शर्मा की जिंदगी से भी देखने को मिला। आईएएस अधिकारी बनने के क्षेत्र में इन्हें बहुत सारी मुसीबतों का सामना करना पड़ा परीक्षा में सफल होने के लिए उन्होंने क्या-क्या रणनीति अपनाई इन सभी रणनीतियों को मैं विस्तार से बताती हूं।

 सौम्या ने राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय दिल्ली से कानून की पढ़ाई की उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा पहली बार 2017 में दी थी  एनएलयू से पढ़ाई पूरी होने के तुरंत बाद तक सौम्या की उम्र 22 साल थी  सौम्या आगे बताती हैं कि उन्होंने उचित तरीके से यूपीएससी परीक्षा की तैयारी 19 फरवरी 2017 से शुरू कर दी थी. उन्होंने प्रारंभिक परीक्षा पास कर ली लेकिन मुख्य परीक्षा के करीब 1 हफ्ते पहले से ही उन्हें बुखार हो गया.  पूरे सप्ताह मेरा बुखार नहीं उतरा परीक्षा के दिन भी तापमान 102 से नीचे नहीं जा रहा था कभी-कभी तो 103 डिग्री तक पहुंच रहा था मुझे दिन में तीन बार सलाइन ड्रिप चढ़ाई जा रही थी यहां तक की परीक्षा के बीच के ब्रेक में भी मुझे ड्रिप चढ़ी थी  सौम्या कहती हैं, ‘मुझे याद है जीएस-2 की परीक्षा के दौरान बीच-बीच में मेरी आंखों के सामने अंधेरा छा रहा था। मैं तुरंत ऊर्जा के लिए चॉकलेट खाती और उत्तर लिखने में जुट जाती।

सौम्या की सुनने की क्षमता भी काफी कमजोर है। वह हीयरिंग एड की मदद के बिना ठीक से सुन नहीं पातीं। लेकिन सौम्या ने इसका फायदा यूपीएससी परीक्षा में नहीं उठाया। उन्होंने सामान्य श्रेणी के तहत आवेदन किया था। अखबार पढ़ने की मेरी आदत ने मुझे बचपन से ही हमेशा मदद की। इस परीक्षा के लिए भी मैं रोजाना कई अखबार पढ़ती थी।

 मेरा मानना है कि सामान्य ज्ञान पर अच्छी पकड़ होना जरूरी है। इस विषय में मेरा आधार मजबूत था। इतिहास और भूगोल में सामान्य ज्ञान ने मेरी काफी मदद की।  क्योंकि मेरा भी वैकल्पिक विषय ऐसा था जिसकी पढ़ाई मैं 5 सालों से बीवी में कर रही थी इसलिए कम समय में इसकी तैयारी मेरे लिए ज्यादा मुश्किल नहीं रही।  मेरी पढ़ने और समझने की गति अच्छी है इसलिए परीक्षा के दौरान प्रश्न पढ़ने और समझने में मैंने ज्यादा समय नहीं गंवाया। मैंने विवी में प्लेसमेंट इंटरव्यू पास कर लिया था  इससे मुझे यूपीएससी के साक्षात्कार के तौर तरीके समझने में मदद मिली।

Leave a Comment