देश की पहली महिला पायलट जिसमें साड़ी पहनकर उड़ाया था प्लेन, बड़ी दिलचस्प कहानी है इनकी

महिलाएं आजकल हर दिशा में कमान संभाल रही है साथ ही वह आजकल हवाई जहाज़ उड़ा रही हैं पर ऐसा नहीं है की वह आजके ही जमाने में ऐसा कर रही हैं बल्कि इसकी शुरुआत 1936 में हो चुकी है। जिस महिला ने यह कार्य करा था उसका नाम था सरला ठकराल और हैरान करने वाली बात ये है कि ऐसा उन्होंने साड़ी पहनकर करा था। सरला की शादी उस वक्त महज 16 वर्ष की आयु में ही हो गई थी। उनके पति भी व्यावसायिक विमान चालक थे। किसी ने भी उनके इस उड़ान भरे करियर पर सवाल नहीं करा पर एक क्लर्क को आपत्ति उस समय थी।

सरला ने जैसे ही अपनी उड़ान के 1000 घंटे पूरे करे वैसे ही उनको A लाइसेंस का खिताब मिल गया, उन्होंने सबसे ज्यादा समय लाहौर और कराची के बीच उड़ान भर कर पूरा करा। वह मेहनती थी और अपने दम पर काफी कुछ हासिल कर चुकी थी पर कुछ समय बाद दूसरे विश्व युद्ध की वजह से उनको अपनी आगे की ट्रेनिंग को बीच में ही रोकना पड़ गया। फिर एक दिन खबर यह आई की विमान दुर्घटना में उनके पति की मौत हो गई है जिसके तुरंत बाद उन्होंने जहाज़ उड़ाना छोड़ दिया। इसके बाद उन्होंने ‘मेयो स्कूल ऑफ़ आर्ट’ में एडमिशन लिया और पेंटिंग और फाइन आर्ट में डिप्लोमा किया। और जब देश विभाजित हुआ तब वह दिल्ली आकर रहने लगीं, उन्होंने कपड़े और गहने डिजाइन करने शुरू कर दिये इन डिज़ाइन को वह कुटीर उद्योग में बेचती थी। इस काम की बदौलत वह एक सफल बिजनेस वूमन और पेंटर बनी। 15 मार्च 2008 में उनका देहांत हो गया।

Leave a Comment